पीएनजी गैस की आपूर्ति पर इस साल नहीं पड़ेगा यूक्रेन युद्ध का साया, उद्योगों को मिलेगी पर्याप्त पीएनजी, स्वच्छ ईंधन का उपयोग कर वायु प्रदूषण रोकने में बनें सहभागी

NCRkhabar@bhiwadi/Gurugram. सर्दियों में भिवाड़ी सहित दिल्ली एनसीआर के लोगों को प्रदूषण से निजात दिलाने के लिए गत एक अक्टूबर से ग्रेडेड एक्शन रिस्पांस प्लान (GRAP) लागू हो गया है लेकिन इसके बावजूद भिवाड़ी की हवा खराब श्रेणी में चली गई है। राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल ( RSPCB)  ने सभी सरकारी विभागों को वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए आवश्यक उपाय करने के निर्देश दिए हैं। वहीं उद्योगों को स्वच्छ ईंधन का उपयोग करने को कहा गया है लेकिन अभी तक ज़्यादातर उद्योग स्वच्छ ईंधन का उपयोग नहीं कर रहे हैं।

भिवाड़ी में हरियाणा सिटी गैस को सभी औद्योगिक क्षेत्र एवं आवसीय सोसायटीज व सेक्टर में पाईपड नेचुरल गैस (PNG) की आपूर्ति का जिम्मा मिला हुआ है। हरियाणा सिटी गैस (Haryana City Gas) के मुख्य परिचालन अधिकारी (COO) महेंद्र सिंह खटकर ( Mahendra Singh Khatkar) के मुताबिक उद्योगों को आपूर्ति के लिए पर्याप्त मात्रा ने पीएनजी उपलब्ध है तथा उद्योगों को मांग के अनुसार गैस उपलब्ध करवाई जाएगी। खटकर ने बताया कि भिवाड़ी के सभी औद्योगिक क्षेत्र में पीएनजी की आपूर्ति के लिए पाईपलाईन बिछाई गई है और आवेदन करने के तीन माह के अंदर गैस उपलब्ध करवा दी जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी उद्योगों में एक जैसे मीटर नहीं लगाए जा सकते और उद्योगों में गैस की डिमांड के अनुसार अलग-अलग मीटर लगाए जा रहे हैं। हरियाणा सिटी गैस के सीओओ महेंद्र सिंह खटकर के अनुसार शिप के जरिए रूस, अमेरिका व अन्य यूरोपीय देशों से पीएनजी भारत मे आयात की जाती है। पिछले साल यूक्रेन युद्ध का असर पीएनजी गैस की आपूर्ति पर तीन माह तक के लिए पड़ा था क्योंकि शिपर इस बात से आशंकित थे कि नुकसान होने पर उन्हें क्लेम मिलेगा या नहीं लेकिन बाद में स्थिति पूरी तरह बाद गई और पीएनजी की आपूर्ति मात्रा में होने लगी। भिवाड़ी को स्वच्छ व प्रदूषण रहित बनाने के लिए हरियाणा सिटी गैस उद्योगों को पर्याप्त मात्रा में गैस उपलब्ध करवाएगा, साथ ही आवसीय सोसायटीज व सेक्टर में भी पीएनजी की आपूर्ति ज़्यादा से ज़्यादा घरों में करने का प्रयास कर रहा है।

 

 

 

Leave a Comment

[democracy id="1"]