मॉडर्न पब्लिक स्कूल के विद्यार्थियों ने ओलंपियाड में किया सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, जीते स्वर्ण पदक एवं नकद राशि

एसओएफ ओलंपियाड में जिला स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रिंसिपल का अवॉर्ड लेते एमपीएस के प्रिंसिपल पी के साजू व प्रतियोगिता के विजेता विद्यार्थियों के साथ बैठे हुए प्रिंसिपल पी के साजू व एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर ताप्ती चटर्जी।

 

NCRkhabar@Bhiwadi. मॉडर्न पब्लिक स्कूल (Modern Public School) भिवाड़ी में एसओएफ ओलंपियाड की अनेक परीक्षाओं का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता के प्रथम चरण में अनेक विद्यार्थियों ने अलग-अलग विषयों में एसओएफ ओलंपियाड की परीक्षा दी थी, जिसमें द्वितीय चरण के लिए 91 विद्यार्थियों का चयन हुआ।  7 8 विद्यार्थियों को मेरिट सर्टिफिकेट 11 को जोनल एक्सीलेंस अवॉर्ड व दो विद्यार्थियों को आउटस्टैंडिंग परफॉर्मेंस अवार्ड से सम्मानित किया गया। विद्यालय के प्रधानाचार्य पी.के. साजू को एस. ओ. एफ. सर्वश्रेष्ठ जिला प्रधानाचार्य अवार्ड 2023-24 से सम्मानित किया गया। वहीं कक्षा 8 की मेधावी छात्रा नैनिका साजू को आईजीकेओ में इंटरनेशनल रैंक 8, जोनल रैंक 3, स्वर्ण पदक एवं ढाई हजार रुपए नकद, आईईओ में द्वितीय स्थान स्वर्ण पदक एवं पांच हजार रुपए का नकद पुरस्कार दिया गया। इसी तरह कक्षा आठ की छात्रा पार्शती बाजपेई (2023- 24) को आई.ई.ओ.में इंटरनेशनल रैंक एक, स्वर्ण पदक और 50 हजार रुपए, आईएसएसओ में इंटरनेशनल रैंक वन, स्वर्ण पदक एक हजार रुपए, आईजीकेओ, एनसीओ, में इंटरनेशनल रैंक 2, रजत पदक, एनएसओ में जोनल रैंक दो, रजत पदक और 2500 का इनाम दिया गया। इसके अलावा आईएमओ में जोनल रैंक 4 कांस्य पदक व एक हजार रुपए की राशि भेंट की गई। इसके साथ ही पार्शती को  एसओएफ एकेडमिक एक्सीलेंस स्कॉलरशिप 2023- 24 से भी सम्मानित किया गया। स्कूल के ही कक्षा आठ के छात्र प्रियांशु गुप्ता (2023- 24) को एन. एस. ओ.में जोनल रैंक 5 एवं एक।हजार रुपए  का इनाम दिया गया। विद्यालय की अध्यापिका सुनीता सिंह को एसओएफ की संयोजिका के रूप में उनके नेतृत्व के गुण और श्रेष्ठ दृष्टिकोण के लिए प्रशंसा पत्र से सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर विद्यालय की एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर तापती चटर्जी ने विजेता रहे विद्यार्थियों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि ओलंपियाड ना केवल एक परीक्षा है बल्कि यह हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, जो हमें ना केवल एक  बेहतर विद्यार्थी बनता है बल्कि एक बेहतर इंसान भी बनने में मदद करता है। उन्होंने कहा कि हमें इसे एक चुनौती के रूप में नहीं बल्कि एक अवसर के रूप में देखना चाहिए और पूरी मेहनत और लगन के साथ इसमें भाग लेना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों को श्रद्धा और विश्वास का महत्व भी समझाया।
विद्यालय के प्रधानाचार्य पी.के. साजू ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि ओलंपियाड परीक्षाओं के माध्यम से हम राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित करने का मौका पाते हैं। यह ना केवल हमें अपनी क्षमताओं को परखने का अवसर देता है बल्कि हमें विश्व के मंच पर स्पर्धा करने के लिए भी तैयार करता है। इससे हमें यह समझने में मदद मिलती है, कि हम कहां खड़े हैं और हमें कितनी मेहनत और करनी है। उन्होंने उन सभी अध्यापक अध्यापिकाओं का धन्यवाद किया जिन्होंने विद्यार्थियों को तैयार करने में अपना सहयोग दिया था
एसओएफ ओलंपियाड में जिला स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रिंसिपल का अवॉर्ड लेते एमपीएस के प्रिंसिपल पी के साजू व प्रतियोगिता के विजेता विद्यार्थियों के साथ बैठे हुए प्रिंसिपल पी के साजू व एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर ताप्ती चटर्जी।

 

 

Leave a Comment