राजस्थान एजुकेशन इनिशिएटिव के पार्टनर्स के साथ बैठक, आरईआई पार्टनर्स अपना दायरा बढ़ाकर प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में विद्यार्थियों को लाभान्वित करें : ज़ाहिदा खान

NCRkhabar@Jaipur. शिक्षा राज्य मंत्री जाहिदा खान ( Zahida Khan) ने कहा कि राजस्थान एजुकेशन इनिशिएटिव (REI) के तहत प्रदेश में स्कूल शिक्षा (School Education) के क्षेत्र में कार्य कर रहे सभी पार्टनर्स अपना दायरा बढ़ाकर प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में अधिक से अधिक स्कूलों के विद्यार्थियों को अपनी विशेषज्ञता से लाभांवित करने की सोच के साथ कार्य करे।

शिक्षा राज्यमंत्री ज़ाहिदा खान मंगलवार को जयपुर में राजस्थान एजुकेशन इनिशिएटिव के तहत राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद के साथ अलग-अलग एमओयू के तहत प्रदेश में स्कूली शिक्षा में टीचर्स ट्रेनिंग, बालिका शिक्षा, लीडरशिप विकास और डिजिटल शिक्षा जैसे क्षेत्रों में कार्य कर रही सहयोगी संस्थाओं की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि आरईआई पार्टनर्स जिन जिलों में कार्य कर रहे है, वहां सामुदायिक सहभागिता के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ क्षेत्र में अपने कार्यक्रमों का आयोजन करे, इससे सभी कार्यक्रमों की लोगों तक पहुंच में इजाफा होगा और उनके लक्ष्यों की पूर्ति में आसानी होगी।

शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि आरईआई पार्टनर्स एमओयू की शर्तों के अलावा भी दूसरे जिलों एवं क्षेत्रों में कार्य करने की योजना बनाए, जिससे शैक्षिक परिदृश्य में बदलाव और प्रगति का मार्ग प्रशस्त हो। उन्होंने एक दिन से अधिक अवधि के प्रशिक्षण कार्यक्रमों को आवासीय बनाने का सुझाव देते हुए कहा कि इससे प्रतिभागियों को स्कूलों के विकास से संबंधित कार्यक्रमों के बेहतर संचालन में नए आइडियाज शेयर का माहौल मिलेगा। उन्होंने आरईआई पार्टनर्स के प्रस्तुतीकरण को गहरी रुचि के साथ देखा और बीच-बीच में प्रदेश के सरकारी स्कूलों के छात्र-छात्राओं को अधिक बेहतर तरीके से लाभान्वित करने के बारे में मार्गदर्शन दिया।

बैठक में आरईआई पार्टनर्स के साथ इस बात पर भी चर्चा की गई कि वे अपने-अपने कार्यक्रमों के संचालन के साथ किस प्रकार कॉमन कॉज के लिए आपस में मिलकर भी कार्य कर सकते है। राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद में अतिरिक्त राज्य परियोजना निदेशक डॉ. अनिल कुमार पालीवाल ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आरईआई पार्टनर्स के साथ इस प्रकार से संवाद से फील्ड के अनुभव जानने को मिलते हैं, उनके माध्यम से प्राप्त होने वाला फीडबैक बहुत मायने रखता है।

बैठक में यूनाइटेड नेशंस पॉपुलेशन फंड, पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया, आईपीई ग्लोबल, रामकृष्ण मिशन, अजीम प्रेमजी फाउंडेशन,  सम्पर्क फाउंडेशन, एजूइजफन, फ्यूजन क्लासरूम, इंडीड फाउंडेशन, मोइनी फाउंडेशन, पिरामल फाउंडेशन, स्कूलनेट इंडिया, सेव द चिल्ड्रन, वैदिक ब्रेन सोल्यूशंस, सेंटर फॉर माइक्रो फाइनेंस एंड टाटा ट्रस्ट, एजुकेट गर्ल्स, लेंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन, मैजिक बस इंडिया, मोइनी फाउंडेशन, रूम टू रीड जैसी संस्थाओं की ओर से अपनी गतिविधियों के बारे में प्रस्तुतीकरण दिया गया। बैठक में राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद के अधिकारियों के अलावा आरईआई  पार्टनर्स  के प्रतिनिधि मौजूद थे।

Leave a Comment

[democracy id="1"]