वीरनवास टोल प्लाज़ा पर दबंगों ने मचाया उत्पात, टोल मैनेजर व कर्मचारियों के साथ की मारपीट, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

NCRKhabar@bhiwadi. बूढ़ीबावल-कसौला चौक मार्ग पर स्थित वीरनवास टोल प्लाजा ( Veeranvaas Toll Plaza) पर दबंगों ने गुरुवार को जमकर उत्पात मचाया तथा टोल मैनेजर व कर्मचारियों से मारपीट किया। मारपीट की घटना टोल प्लाजा पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। इस तरह की घटनाओं से टोल प्लाजा पर काम करने वाले कर्मचारियों में खौफ का माहौल है और टोल कलेक्शन के काम मे बाधा आई है। हमलावर लड़के आसपास के गांवों के हैं और आए दिन वारदात करते रहते हैं। खुशखेड़ा पुलिस थाने ( Khushkheda Police Station) में दर्ज कराई रिपोर्ट में टोल मैनेजर विकास ने बताया कि हरियाणा नम्बर गाड़ी HR26EY1587 व HR26EA9856 में बदमाश किस्म के सात-आठ लड़के आए तथा टोल स्टाफ के मारपीट करने लगे। इसके बाद रूम की तरफ आकर दबंगों ने कैशियर के बारे में पूछा। उस समय टोल प्लाजा पर एपीएम, इलेक्ट्रिशियन राहुल, इंचार्ज दिगंबर व आईटी में दीपक मिश्रा मौजूद थे। कैशरूम के पास आकर युवकों ने मैनेजर और कैश के बारे में पूछा। टोल मैनेजर ने उन्हें बताया गया कि कैश की चाभी लेकर कैशियर चला गया है। इतना सुनते ही युवकों ने मैनेजर के साथ लाठी-डंडे से मारपीट की तथा गला दबाकर जान से मारने की धमकी दी। बड़ी मुश्किल से मैनेजर विकास खुद को हमलावरों के चंगुल से बचा सके। इसके अलावा राहुल नामक कर्मचारी को डंडे लगने से ज़्यादा चोट लगी। युवकों ने दबंगई दिखाते हुए कहा कि तू लोकल की गाड़ियों को रोकता है जबकि मैनेजर विकास ने बताया कि उन्हें यहां आए हुए एक सप्ताह हुआ है। युवकों ने दबंगई दिखाते हुए कहा कि तू लोकल की गाड़ियों को रोकता है। वहीं कैश रूम बंद होने की वजह से डकैती की बड़ी वारदात होने से बच गई लेकिन जान से मारने की धमकी देते हुए बदमाश चले गए। युवकों ने जाते समय गाली देते हुए गांव का नाम बुरहेड़ा बताया था। तीन दिन पूर्व भी कुछ स्थानीय लोग आए थे और धमकी देकर गए थे लेकिन पहचान नहीं होने की वजह से पुलिस को सूचित नहीं किया गया। बहरहाल पुलिस मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

 

1 thought on “वीरनवास टोल प्लाज़ा पर दबंगों ने मचाया उत्पात, टोल मैनेजर व कर्मचारियों के साथ की मारपीट, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात”

  1. इस टोल पर स्टाफ के लोग गलत है, मैं पिछले डेढ़ महीने से यहां TC के पद पर काम कर रहा हूं यहां के सारे सीनियर सरकार के नियम, कानून के मुताबिक नही चलते हैं। और सब के सब शराब, गंजेड़ी, नशेबाज हैं मेरे साथ भी पिछले 1 महीने से गलत हो रहा है मजबूरी में 16 घंटे की ड्यूटी करनी पड़ती है।

    Reply

Leave a Comment

प्रभारी सचिव शिव प्रसाद नकाते ने की भिवाड़ी में जलभराव की समीक्षा, प्रदूषित पानी को खुले में छोड़ने वालों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश, जिला प्रभारी सचिव ने आगामी मानसून को देखते हुए सीईटीपी एवं ड्रेनेज सिस्टम का किया निरीक्षण