राजीव गांधी ग्रामीण एवं शहरी ओलम्पिक खेल-2023 का आगाज, खेल प्रतिभाओं को मंच और सम्मान देना राज्य सरकार की जिम्मेदारीः मुख्यमंत्री

– 7 खेलों में खेलते नजर आएंगे 58.51 लाख खिलाड़ी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य के प्रत्येक जिले की ग्राम पंचायत और शहरी वार्डों में एक साथ हजारों खिलाड़ियों का मैदान में प्रतिभा दिखाना गौरवशााली पल है। हम सभी ने मिलकर देश के सामने एक खेल इतिहास रचा है। खेल प्रोत्साहन की दिशा में राजीव गांधी ग्रामीण एवं शहरी ओलम्पिक खेल-2023 का आयोजन नए कीर्तिमान स्थापित करेगा। यह खेल अब हर वर्ष आयोजित कराए जाएंगे। गहलोत ने शनिवार को सवाई मानसिंह स्टेडियम में राजीव गांधी ग्रामीण एवं शहरी ओलम्पिक-2023 का विधिवत शुभारंभ किया। उन्होंने खिलाड़ियों को खेल मशाल सौंपकर प्रज्ज्वलित कराई। साथ ही, खिलाड़ियों को खेल भावना और ईमानदारी से खेलने की शपथ भी दिलाई। उन्होंने कहा कि प्रतिभाओं को मंच और सम्मान देना हमारी जिम्मेदारी है। इसमें कमी नहीं रखी जाएगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बड़े स्तर पर खेल माहौल तैयार करने के लिए गत वर्ष राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल का आयोजन किया गया था। इसमें हर वर्ग और उम्र के लगभग 30 लाख खिलाड़ियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। यह संख्या इस बार 58.51 लाख पहुंचना एक रिकॉर्ड है। उन्होंने कहा कि इन खेलों से शहरों से लेकर हर गांव-ढाणी में खेलों का सकारात्मक माहौल बनेगा। इससे आने वाले वर्षों में ओलम्पिक, कॉमनवेल्थ, एशियन जैसे विश्वस्तरीय आयोजनों में राजस्थान के खिलाड़ी पदक जीतते नजर आएंगे।

देश में हमारे खेल आयोजनों की चर्चा

गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार ने खेल और खिलाड़ियों के प्रोत्साहन में कोई कमी नहीं रखी है। आउट ऑफ टर्न सरकारी नौकरी, नौकरियों में आरक्षण, पुरस्कार विजेता राशि में कई गुना बढ़ोतरी, खेल मैदानों का विकास सहित हरसंभव प्रयास किए गए हैं। उन्होंने कहा कि अब देश के अन्य राज्यों में राजीव गांधी ग्रामीण एवं शहरी ओलम्पिक खेल और राज्य की खेल नीतियों की चर्चा होना हमारी खेल के प्रति दूरदृष्टि और सफलता को दर्शाता है।

मुख्यमंत्री ने किया युवाओं से आह्वान

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार का बजट युवाओं को समर्पित किया था। इसमें युवा केन्द्रित योजनाएं लागू की गई। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि वे योजनाओं का अध्ययन करें और अधिकाधिक लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना में प्रतियोगी परीक्षाओं की निःशुल्क तैयारी, राजीव गांधी स्कॉलरशिप फॉर एकेडमिक एक्सीलेंस में 500 होनहार विद्यार्थियों को विदेश में शिक्षा, 100 जॉब फेयर का आयोजन सहित कई प्रावधान किए गए हैं। उन्होंने कहा कि हमारा विजन 2030 है, हम चहुंमुखी विकास के साथ देश के अग्रणी राज्यों में खड़े होंगे।

खिलाड़ियों का सम्मान, स्वीमिंग पूल का लोकार्पण

गहलोत ने बॉक्सिंग खिलाड़ी सुश्री खुशी पूनिया, कुश्ती खिलाड़ी सुश्री अश्विनी विश्नोई, कबड्डी खिलाड़ी श्री जय भगवान, एथलीट श्री नीरज बालोदा, शूटिंगबॉल खिलाड़ी सुश्री मुस्कान काठेड और सुश्री शिरीन खान को खेल उपलब्धियों के लिए सम्मानित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने स्टेडियम में नवीनीकरण के बाद तैयार 8 लेन के अंतर्राष्ट्रीय स्वीमिंग पूल का लोकार्पण किया।
युवा मामले एवं खेल राज्य मंत्री अशोक चांदना ने कहा कि राज्य सरकार की खेल प्रोत्साहन सोच एवं कार्यक्रमों से प्रदेश में खेलों का इतिहास ही बदल गया है। आउट ऑॅफ टर्न पॉलिसी के तहत 1500 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरियां दी गई है। इससे युवाओं में खेलों के प्रति विश्वास बढ़ा है। उन्होंने कहा कि खेल प्रोत्साहन का ही नतीजा है कि इस वर्ष खेलो इंडिया में राजस्थान चौथे स्थान पर रहा। राजस्थान राज्य क्रीडा परिषद की अध्यक्ष श्रीमती कृष्णा पूनिया ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा खेल और खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास सुनिश्चित किया गया है। मैदान में खिलाड़ियों का उत्साह उज्ज्वल भविष्य को दर्शा रहा है।

खिलाड़ियों और मंत्रियों ने खेला मैच

समारोह में महिला कबड्डी का प्रदर्शन मैच भी खेला गया। इसमें मुख्यमंत्री ने कोर्ट पर पहुंचकर टॉस कराते हुए उनका उत्साहवर्धन किया। इसके बाद उपस्थित मंत्रियों ने भी मैच खेला।  समारोह में खिलाड़ियों ने मार्चपास्ट किया। अजमेर से नगाड़ा वादक श्री नरेंद्र सोलंकी समूह सहित अन्य राजस्थानी कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया गया है।
समारोह में कृषि मंत्री लालचंद कटारिया, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. महेश जोशी, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास, आपदा प्रबंधन एवं सहायता मंत्री गोविंद राम मेघवाल, राजस्थान राज्य अल्पसंख्यक आयोग अध्यक्ष रफीक खान, राज्य केश कला बोर्ड अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत, राजस्थान युवा बोर्ड के अध्यक्ष  सीताराम लाम्बा, राजस्थान राज्य क्रीडा परिषद के उपाध्यक्ष सतबीर चौधरी, मुख्य सचिव उषा शर्मा, शासन सचिव खेल विभाग नरेश ठकराल सहित अन्य जनप्रतिनिधि, खेलप्रेमी और खिलाड़ी उपस्थित थे।

खेल और खिलाड़ी

क्र.सं. ग्रामीण शहरी
1. कबड्डी (बालक/बालिका वर्ग) कबड्डी (बालक/बालिका वर्ग)
2. शूटिंग बॉल (बालक वर्ग) टेनिस बॉल क्रिकेट (बालक/बालिका वर्ग)
3. टेनिस बॉल क्रिकेट (बालक/बालिका वर्ग) खो-खो (बालिका वर्ग)
4. खो-खो (बालिका वर्ग) वॉलीबॉल (बालक/बालिका वर्ग)
5. वॉलीबॉल (बालक/बालिका वर्ग) एथलेटिक्स (100 मी., 200 मी. एवं 400 मी.)
6. फुटबॉल (बालक/बालिका वर्ग) फुटबॉल (बालक वर्ग)
7. रस्साकशी (बालिका वर्ग) बास्केटबॉल (बालक/बालिका वर्ग)
ग्रामीण प्रतियोगिता शहरी प्रतियोगिता प्रतियोगिता की तिथि
ग्राम पंचायत स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं नगर निकाय 05.08.2023 से 10.08.2023
ब्लॉक स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं – 17.08.2023 से 22.08.2023
जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं जिला स्तरीय 01.09.2023 से 06.09.2023
राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिताएं राज्य स्तरीय 15.09.2023 से 18.09.2023
विवरण पुरूष महिला
ग्रामीण 26.45 लाख 19.67 लाख
शहरी 7.59 लाख 4.79 लाख
कुल 58.51 लाख (आंकड़े लगभग)

Leave a Comment

प्रभारी सचिव शिव प्रसाद नकाते ने की भिवाड़ी में जलभराव की समीक्षा, प्रदूषित पानी को खुले में छोड़ने वालों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश, जिला प्रभारी सचिव ने आगामी मानसून को देखते हुए सीईटीपी एवं ड्रेनेज सिस्टम का किया निरीक्षण